Most Popular

Sunday, Nov 01, 2020 | Last Update : 07:32 AM IST

follow us on google news

Most Popular

  • जाने क्या है धारा 151

    जाने क्या है धारा 151

    धारा 151 का प्रयोग पुलिस जन सामान्य को नियंत्रित करने के दौरान सबसे ज्यादा करती है। धारा 151 के तहत पुलिस द्वारा गिरफ्तार आरोपी को थाने से ही जमानत का प्रावधान होता है।

  • Types of Ration Card In India

    Types of Ration Card In India

    State Governments in India issue different types of Ration Cards. They are provided according to the groups divided as per income. Read more..

  • सरदार वल्लभ भाई पटेल भारत के लौह पुरुष

    सरदार वल्लभ भाई पटेल भारत के लौह पुरुष

    सरदार वल्लभ भाई पटेल स्वंत्रता संगरमी थे, वे भारत के पहले ग्रह मंत्री और उप प्रधानमंत्री बने पटेल  बारडोली सत्यागृह का जब  नेतृव्य कर रहे थे तब सत्यागृह की सफलता पर वहां की महिलाओ ने उनको सरदार की उपाधि दे दी  पटेल को भारत का लौह पुरुष भी माना जाता है |

  • Karva Chauth (करवा चौथ )

    Karva Chauth (करवा चौथ )

    करवा चौथ 27 अक्तूबर, दिन शनिवार 2018 को देश भर में मनाया जाएगा। इस दिन पूजा का शुभ मुहूर्त - सांयकाल 05 बज कर 36 मिनट से 06 बज कर 54 मिनट तक रहेगा। चंद्रोदय का समय दिल्ली समेत कई राज्यों में रात 08 बजे है। इसी समय अर्घ्य दिया जाना भी शुभ है।

  • भारत में दूरदर्शन का इतिहास

    भारत में दूरदर्शन का इतिहास

    जब दूरदर्शन की शुरुआत हुई थी तो कुछ समय के लिए ही इस पर कार्यक्रमों का प्रसारण किया जाता था। जो हफ्ते में तीन दिन ही प्रसारित होता था। 1965 में आल इंडिया रेडियो के तौर पर इसकी शुरुआत की गई थी।

  • हिन्दी साहित्य के महान कवि काली दास की प्रसिद्ध रचनाएं

    हिन्दी साहित्य के महान कवि काली दास की प्रसिद्ध रचनाएं

    भारत सरकार के द्धारा कालिदास की एक प्रतिमा उत्तराखंड के रुद्रप्रयाग जिले के कविल्ठा गांव में स्थापित की गई है। यहां हर साल जून में तीन दिनों की एक साहित्यिक गोष्ठी का आयोजन किया जाता है। जिसमें हिस्सा लेने के लिए देश के अलग-अलग हिस्सों से विद्धान आते हैं।

  • Sumitranandan Pant (सुमित्रानंदन पंत)

    Sumitranandan Pant (सुमित्रानंदन पंत)

    Sumitranandan Pant (सुमित्रानंदन पंत),मित्रानंदन पंत का जन्म उतराखंड के अल्मोड़ा जिले के कौसौनी गाँव मे २० मई सन १९०० ई. मे हुआ था |