Sunday, Feb 25, 2018 | Last Update : 04:51 AM IST

तीन सालों में मोदी सरकार ने देश के हित में जारी की कई योजनाएं, जिनमें से ये हैं कुछ खास

मोदी सरकार द्वारा जारी की गई अबतक की कुछ मुख्य योजनाएं।
Jan 2, 2018, 3:09 pm ISTShould KnowAazad Staff
Narendra Modi
  Narendra Modi

26 मई 2014 को जनता द्वारा पूर्ण बहुमत से बीजेपी की सरकार सत्ता में आई। इसके साथ ही भारत के प्रधान मंत्री का पदभार नरेन्द्र मोदी ने संभाला। बीजेपी सरकार को सत्ता में आए तीन साल से ज्यादा हो गए है। इस बीच मोदी सरकार ने गरीबों के हित के लिए कई योजनाओं की शुरुआत की, सरकारी योजनाओं में पहले जिस तरह भ्रष्टाचार होता था उन पर काफी हद तक मोदी सरकार ने रोक लगा दी है।

मोदी सरकार द्वारा नोटबंदी के कारण कई भ्रष्ट कारोबारीयों के कारोबार पर ताला लग गया। हांलाकि इसके कारण माध्यम वर्ग, व गरीबो को थोड़ी परेशानी का सामना करना पड़ा था।  बहरहाल आज हम आपको मोदी सरकार द्वारा चलाई गई कई योजनाओं से रुबरु कराएंगे जिससे हर वर्ग को लाभ हो रहा है।  तो आईयो जानते है मोदी सरकार द्वारा अब तक की अमल में आई योजना के बारे में-

जन धन योजना - मोदी सरकार के सत्ता में आते ही हर वर्ग व समुदाय के लिए जन धन योजना की शुरुआत की गई। इस योजना के तहत एक रुपए से खाता खोला गया। बता दें कि अभी तक 30.80 करोड़ लाभार्थियों ने बैंको में धनराशि जमा की है।

जीवन ज्योति योजना- शहर या गांव के गरीब के बैंक खाता धारको के लिए जीवन बीमा की योजना को शुरु किया गया। इस योजना के तहत 18 से 50 वर्ष आयु समूह के व्यक्तियों को उपलब्ध कराई जाती है।

उज्जवला योजना- इस योजना के तहत शहर या गांव के गरीब परिवारों को मुफ्त एलपीजी सिलेंडर दी जाती है।

डीबीटी-मनरेगा में काम करने वालों का पैसा सीधे उनके खाते में साथ ही साथ अन्य योजनाओं से मिलने वाली आर्थिक सहायता बैंक खाते में जाता है।

फसल बीमा योजना-गांव के किसानों के लिए फसल बीमा योजना का प्रावदान है। इस योजना के तहत 8,800 करोड़ रुपयों को खर्च किया जायेगा। प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना के अन्तर्गत, किसानों को बीमा कम्पनियों द्वारा निश्चित, खरीफ की फसल के लिये 2% प्रीमियम और रबी की फसल के लिये 1.5% प्रीमियम का भुगतान करेगा।
सांसद आदर्श ग्राम योजना - प्रधानमंत्री मोदी ने 11 अक्टूबर 2014 को सांसद आदर्श ग्राम योजना की शुरुआत की। इस योजना के मुताबिक, हर सांसद को साल 2019 तक तीन गांवों को विकसित करना होगा।

अटल पेंशन योजना प्रधानमंत्री जन धन योजना की सफलता से उत्‍साहित देश की युवा पीढ़ी को ध्‍यान में रखकर तैयार की गई मोदी सरकार की यह एक और अहम योजना है।

बेटी बचाओ, बेटी पढ़ाओ प्रधानमंत्री ने 22 जनवरी 2015 को हरियाणा के पानीपत से इस योजना की शुरुआत की। 100 करोड़ रुपये की शुरुआती राशि‍ के साथ यह योजना देशभर के 100 जिलों में शुरू की गई।

प्रधानमंत्री कौशल विकास योजना गरीबी के खिलाफ लड़ाई और बेहतर रोजगार अवसर के लिए देश के लोगों खासकर युवाओं को कुशल बनाने के लिए इस योजना की शुरुआत की गई|

स्वच्छता मिशन- इस योजना के तहत स्वच्छता मिशन के तहत गांव और शहर के गरीब परिवारों के घरों के लिए शौचालय की व्यवस्था की गई।

ई-नाम-किसान अपनी खेती की ऊपज को बाजार में सही कीमत पर बेच सकें इसके लिए ई-कृषि मंडी

दीनदयाल उपाध्धाय ग्रामीण विद्युत योजना- इस योजना के तहत सभी गांवो के घरों में बिजली पहुंचना है। इस योजना के तहत विद्युत मंत्रालय ने डीडीयूजीजेवाई-आरई के तहत 1,20,804 अविद्युतीकृत गांवों के विद्युतीकरण।  3,14,958 आंशिक रूप से विद्युतीकृत गांवों के सघन विद्युतीकरण और 396.45 लाख बीपीएल ग्रामीण परिवारों को मुफ्त बिजली कनेक्शन प्रदान करने के लिए 921 परियोजनाओं को मंजूरी दी गई।

किसान विकास पत्र यह एक सर्टिफिकेट योजना है, जो पहली बार 1988 में लॉन्‍च की गई थी. नई सरकार ने से 2014 में री-लॉन्‍च किया है।  इसमें 1 हजार, 5 हजार, 10 हजार और 50 हजार की राशि‍ को 100 महीनों में दोगुना करने का प्रावधान है।

इंद्रधनुष योजना -  इस योजना का उद्देश्‍य बच्‍चों में रोग-प्रतिरक्षण की प्रक्रिया को तेज गति देना है। इसमें 2020 तक बच्‍चों को सात बीमारियों- डिप्थीरिया, काली खांसी, टिटनेस, पोलियो, टीबी, खसरा और हेपेटाइटिस बी से लड़ने के लिए वैक्‍सनेशन की व्‍यवस्‍था की गई है।
अटल पेंशन योजना-असंगठित क्षेत्र में काम करने वालो के लिए पेंशन की व्यवस्था। इसका लक्ष्य असंगठित क्षेत्र के लोगों को पेंशन की सुविधा प्रदान करना है।

Featured Videos!