Sunday, Jun 24, 2018 | Last Update : 11:00 AM IST

सुर्खियां

स्वामी अखिलेश्वरानंद को मध्यप्रदेश सरकार ने दिया कैबिनेट मिनिस्टर का दर्जा

स्वामी अखिलेश्वरानंद को साल 2010 में निरंजनी अखाड़े ने महामंडलेश्वर बनाया गया था।
Jun 13, 2018, 2:33 pm ISTNationAazad Staff
Shivraj Singh Chouhan
  Shivraj Singh Chouhan

मध्यप्रदेश सरकार एक बार फिर से बाबा पर मेहरबान होती नजर आ रही है। मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान  ने स्वामी अखिलेश्वरानंद  को कैबिनेट मिनिस्टर का दर्जा दिया है। खबरों के मुताबिक बाब अखिलेश्वरानंद को पहले नर्मदा संरक्षण पैनल में नियुक्त किया गया था।

इनके साथ अन्य पांच धर्मगुरुओं की भी नियुक्ति किया गया। हालांकि खबरों की माने तो स्वामी अखिलेश्वरानंद इस नियुक्ती से खुश नहीं थे, और वे इस पद से हटना चा रहे थे। ऐसे में मामले को संभालते हुए मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने उन्हे कैबिनेट मिनिस्टर का दर्जा दे दिया है।

आपको बता दें कि स्वामी अखिलेश्वरानंद मध्यप्रदेश गौ पालन एवं संवर्धन बोर्ड के अध्यक्ष हैं। वे अपने बयानों को लेकर कई बार सुर्खियों में बने रहे है। हाल ही में उन्होने गौ हच्या को लेकर बयान दिया था कि तीसरा विश्वयुद्ध गाय पर होगा और 1857 की क्रांति की वजह भी गाय ही थी। गौरतलब है कि मध्यप्रदेश सरकार ने इसी साल पांच बाबाओं को कैबिनेट मंत्री का दर्जा दिय था। जिसमें कंप्यूटर बाबा, पंडित योगेंद्र महंत और भय्यूजी महाराज जैसे बाबा शामिल थे। ज्ञात हो कि भय्यूजी महाराज 12 जून को आत्महत्या कर ली।

Featured Videos!