आईआईएचएमआर यूनिवर्सिटी जयपुर के चौथे प्रेसिडेंट के रूप में डॉ. पीआर सोडानी ने कार्यभार संभाला

Monday, May 10, 2021 | Last Update : 01:50 AM IST

आईआईएचएमआर यूनिवर्सिटी जयपुर के चौथे प्रेसिडेंट के रूप में डॉ. पीआर सोडानी ने कार्यभार संभाला

आईआईएचएमआर यूनिवर्सिटी के प्रेसिडेंट पद को संभालते हुए डॉ. पी आर सोडानी ने कहा“आईआईएचएमआर यूनिवर्सिटी, जिसकी स्वास्थ्य प्रबंध, शिक्षा और अनुसंधान के क्षेत्र में समृद्ध विरासत रही है, उसके प्रेसिडेंट के रूप में नए सफर की शुरुआत करते हुए मुझे अत्यधिक खुशी हो रही है
Apr 17, 2021, 10:21 am ISTNationAazad Staff
डॉ. पीआर सोडानी
  डॉ. पीआर सोडानी

आईआईएचएमआर यूनिवर्सिटी के प्रेसिडेंट पद को संभालते हुए डॉ. पी आर सोडानी ने कहा“आईआईएचएमआर यूनिवर्सिटी, जिसकी स्वास्थ्य प्रबंध, शिक्षा और अनुसंधान के क्षेत्र में समृद्ध विरासत रही है, उसके प्रेसिडेंट के रूप में नए सफर की शुरुआत करते हुए मुझे अत्यधिक खुशी हो रही है, यह ध्यान देने वाली बात है कि डॉ सोडानी को 30 साल से ज्यादा अकादमिक शिक्षक, निर्देशक और संस्थापक का अनुभव है। आईआईएचएमआर यूनिवर्सिटी में कार्यवाहक प्रेसिडेंट (2020-21), एक्टिंग प्रेसिडेंट (2017-18) प्रो प्रेसिडेंट (2017-2020) और डीन प्रशिक्षक रहे है। उनको उच्च शिक्षा संस्थान, अनुसंधान और स्वास्थ्य के क्षेत्र में प्रशिक्षण की अच्छी समझ है। उन्होंने एम एल सुखाड़िया यूनिवर्सिटी से अपनी पीएचडी और यूएसए के चैपल हिल के उत्तरी कैरोलीना की यूनिवर्सिटी से एमपीएच प्राप्त की।

2017 से लेकर 2020 के दौरान, पीएमए एजाइल / इंडिया कार्यक्रम के लिए डॉ. सोडानी प्रिंसिपल इन्वेस्टिगेटर के रुप में रहे जोकि जॉन्स हॉपकिन्स यूनिवर्सिटी, यूएसए के सहयोग से चलाया जा रहा था। साथ में, गेन द्वारा चलाए गए फूड फोर्टिफिकेशन प्रोग्राम के लिए तकनीकी सहायता इकाई के प्रोजेक्ट डाईरेक्टर के रूप में कार्य किया। जॉन्स हॉपकिन्स यूनिवर्सिटी के साथ एक सहकारी कार्यक्रम में सोडानी ने हेल्थ पॉलिसी और हेल्थ केयर डिलीवरी प्रणाली में एमबीए और एमपीएच में स्वास्थ्य अर्थशास्त्र पढ़ाया है।

2004 के दौरान उन्होंने भारत सरकार के स्वास्थ्य और परिवार कल्याण मंत्रालय के लिए देश में विश्व बैंक की सहायता से मोतियाबिंद नियंत्रण कार्यक्रम के स्वास्थ्य लाभ के अध्ययन में हेल्थ अर्थशास्त्री के रूप में काम किया है 2017-2020 के दौरान डॉ सोडानी पीएमए के प्रिंसिपल इन्वेस्टिगेटर रहे हैं।

आईआईएचएमआर के ट्रस्टी डॉ. अशोक अग्रवाल ने कहा, “डॉ. पीआर सोडानी ने राष्ट्रीय और अंतर्राष्ट्रीय विश्वविद्यालयों और संगठनों के साथ बड़े पैमाने पर काम किया है। हमें यकीन है कि आईआईएचएमआर में फैकल्टी, अनुसंधान और अन्य कर्मचारियों के विकास को बढ़ावा देने के लिए काम किया जाएगा। इसके परिणाम स्वरुप यूनिवर्सिटी में बेहतर वातावरण और संगठनात्मक संस्कृति का निर्माण होगा। ”

आईआईएचएमआर यूनिवर्सिटी के चेयरमैन डॉ. एसडी गुप्ता ने कहा , “आईआईएचएमआर यूनिवर्सिटी के अध्यक्ष के रूप में बेहतर नेतृत्व के लिए डॉ. पीआर सोडानी के अलावा कोई नहीं हो सकता था। डॉ. सोडानी एक बहुत सम्मानित व्यक्ति हैं, जिन्होंने कई कार्यों को सफलतापूर्वक पूरा किया है। मुझे विश्वास है कि उनके नेतृत्व में यूनिवर्सिटी शिक्षा के क्षेत्र में नई ऊंचाइयों को प्राप्त करेगा। मेरी ओर से उन्हें शुभकामनाएं। ”

 

...

Featured Videos!