अग्रणी ग्लोबल आईटी कंसल्टेंसी कंपनी एटीसीएस अपने कर्मचारियों और उनके परिजनों के लिए कोविड टीकाकरण का खर्च वहन करेगी

Friday, Apr 23, 2021 | Last Update : 02:55 AM IST

follow us on google news

अग्रणी ग्लोबल आईटी कंसल्टेंसी कंपनी एटीसीएस अपने कर्मचारियों और उनके परिजनों के लिए कोविड टीकाकरण का खर्च वहन करेगी

कंपनी देशभर में अपने सभी कर्मचारियों और उनके परिवारों के लिए उपलब्ध कराएगी कोविड टीकाकरण की सुविधा
Apr 7, 2021, 12:29 pm ISTNationAazad Staff
आईटी कंसल्टेंसी कंपनी एटीसीएस
  आईटी कंसल्टेंसी कंपनी एटीसीएस

एडवांस्ड टैक्नोलाॅजी कंसल्टिंग सर्विस - एटीसीएस ने देशभर में अपने 600 से अधिक कर्मचारियों और उनके परिवारों के लिए टीकाकरण अभियान की घोषणा की
एटीसीएस ने भारत में कोविड-19 टीकाकरण अभियान से संबंधित लोगों की भावनाओं का किया विश्लेषण
43 प्रतिशत उपभोक्ताओं ने दिखाई सकारात्मक प्रतिक्रियाएं, जबकि 33 प्रतिशत ने जताया नकारात्मक रुख
सरकार ने पिछले 24 घंटे में 79105163 लोगों को टीके की 16 लाख से अधिक खुराक लगाई (5 अप्रैल 2021 तक की स्थिति के अनुसार)

जयपुर, 06 अप्रेल, 2021- एडवांस्ड टेक्नोलॉजी कंसल्टिंग सर्विस - एटीसीएस ने देशभर में अपने 600 से अधिक कर्मचारियों और उनके परिवारों के लिए टीकाकरण अभियान की घोषणा की है। ग्लोबल टेक्नोलॉजी कंपनी भारत में अपने सभी लाभार्थियों के लिए टीकाकरण की लागत को कवर करेगी। इसके साथ ही एटीसीएस उन चंद शुरुआती कंपनियों में शामिल हो गई है, जिन्होंने अपने कर्मचारियों और उनके परिवारों के लिए कोविड -19 टीकाकरण अभियान की घोषणा की है।

एटीसीएस ने विश्व स्वास्थ्य संगठन की थीम को सपोर्ट करने के लिहाज से यह पहल की है। उल्लेखनीय है कि विश्व स्वास्थ्य संगठन ने वर्तमान महामारी से निपटने के लिए "बिल्डिंग अ फैरेर हेअल्थीर वर्ल्ड" थीम की घोषणा की है।

एटीसीएस ने हाल ही देश में कोविड-19 टीकाकरण अभियान से संबंधित लोगों की भावनाओं का विश्लेषण करने के लिए सेंटिमेंट एनालिसिस किया है। इस दौरान 43 प्रतिशत उपभोक्ताओं ने सकारात्मक प्रतिक्रियाएं दिखाई, जबकि 33 प्रतिशत ने नकारात्मक रुख जताया। शेष 24 फीसदी लोगों ने तटस्थ भावनाओं को प्रदर्शित किया। इस अध्ययन के दौरान सामूहिक टीकाकरण, बुजुर्गों की देखभाल, प्रोटोकॉल, प्रतिरक्षा, खुराक का शैड्यूल और ऐप-आधारित उपभोक्ता सहायता को शामिल किया गया।

कंपनी की इस पहल के बारे में जानकारी देते हुए एटीसीएस इंडिया के मैनेजिंग डायरेक्टर श्री संजुल वैश ने कहा, ‘‘एटीसीएस अपने कर्मचारियों के स्वास्थ्य और उनकी भलाई के लिए निरंतर काम करता है और इसलिए हमने कोविड -19 टीकाकरण से संबंधित सारे खर्च को वहन करने का फैसला किया है। सभी कर्मचारियों को और उनके आश्रितों को, जो टीकाकरण के लिए तैयार हैं, उन्हें यह वित्तीय सहायता प्रदान की जाएगी।’’

उन्होंने आगे बताया कि एटीसीएस ने अपने कर्मचारियों को दो सप्ताह का कोविड अवकाश देने का फैसला भी किया है। यह अवकाश कर्मचारियों को देय सवैतनिक अवकाश के अलावा होगा। भारत में अभी कंपनी में 600 से अधिक कर्मचारी काम कर रहे हैं। एटीसीएस अपने कर्मचारियों के लिए एक कॉर्पोरेट बीमा पॉलिसी भी लागू करता है, जो आईआरडीए के प्रचलित मानदंडों के अनुसार कोरोना वायरस पॉजिटिव रोगियों को कवर करती है।

कंपनी द्वारा किए गए सेंटिमेंट एनालिसिस में आगे कहा गया है कि देश में पिछले हफ्ते कोविड संबंधी चर्चाओं में 15 प्रतिशत की कमी आई और इस दौरान टीकाकरण की आवश्यकता को लेकर बहुत अधिक सकारात्मक बातचीत की गई। हालांकि कई उपभोक्ताओं ने टीका लगवाने के बाद भी संक्रमित होने की घटनाओं पर अपनी चिंता व्यक्त की।

केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय के आंकड़ों के अनुसार महामारी की आगामी दूसरी लहर के साथ सरकार ने पिछले 24 घंटे में 79105163 लोगों को टीके की 16 लाख से अधिक खुराक लगाई (5 अप्रैल 2021 तक की स्थिति के अनुसार)। मंत्रालय की वेबसाइट के अनुसार देश में 7 लाख से अधिक सक्रिय केस हैं, जो कि कुल संक्रमित लोगों का 5.89 प्रतिशत है। रिकवरी रेट 92.80 प्रतिशत है।

एटीसीएस के बारे में

एटीसीएस एक टेक्नोलॉजी कंसल्टिंग फर्म है, जो एंटरप्राइज आईटी, डिजिटल ट्रांसफॉर्मेशन, डेटा एनालिटिक्स और मार्केटिंग इनसाइट्स में सेवाएं प्रदान करती है। कंपनी का वैश्विक संचालन दस कार्यालयों के साथ पांच देशों में फैला हुआ है। एटीसीएस 145.52 प्रतिशत की तीन साल की राजस्व वृद्धि के साथ संयुक्त राज्य अमेरिका में इंक 5000 में स्थान पर है। कंपनी को टाइम्स एसेंट एंड ईटी नाउ द्वारा ‘इमर्जिंग आईटी कंपनी’ की श्रेणी के तहत नेशनल बेस्ट एम्प्लाॅयर और बिजनेस लीडर आॅफ द ईयर के रूप मंे मान्यता प्रदान की गई है।

...

Featured Videos!