हरियाली तीज का महत्व

Monday, May 10, 2021 | Last Update : 01:17 AM IST

follow us on google news

हरियाली तीज का महत्व

इस दिन निर्जला उपवास और शिव-पार्वती की पूजा का विधान है।
Aug 10, 2018, 12:01 pm ISTFestivalsAazad Staff
Hariyali Teej
  Hariyali Teej

हिन्दू पंचांग के अनुसार हरियाली तीज का पर्व श्रावण के महीने में मनाया जाता है। इस साल हरियाली तीज 13 अगस्त, 2018 को मनाया जाएगा। पूजा के लिए सबसे शुभ समय 13 अगस्त, 2018 को 08:36 से शुरू होगा और 14 अगस्त, 2018 को 05:45 बजे समाप्त होगा।

हरियाली तीज सुहागन स्त्रियों के लिए बेहद मायने रखता है। शास्त्रों के अनुासार ये मान्यता है कि हरियाली तीज के दिन ही पार्वती और शिव का पुनर्मिलन हुआ था। हरियाली तीज के दिन लड़कियां और सुहागिन महिलाएं अपने होने वाले पति की लंबी आयु के लिए निर्जला (बिना पानी के) व्रत रखती हैं। व्रत रखकर महिलाएं 16 श्रृंगार करके भगवान भोलेनाथ और माता पार्वती की पूजा करती हैं। इस दिन भगवान शंकर-पार्वती की बालू से मूर्ति बनाकर पूजा- अर्चना कर उनका विवाह कराया जाता है।

पारण के दिन
पारण के दिन पूड़ी सब्जी , हलवा इत्यादि बनाकर मंदिर में अर्पित करके फिर अन्‍न ग्रहण किया जाता है। ऐसी मान्यता है कि हरियाली तीज का व्रत श्रद्धा पूर्वक रखने से महिलाओं का सुहाग अखण्ड रहता है और दामपत्य जीवन सुखी रहता है।

...

Featured Videos!